दोस्तों यह पृथ्वी एक ऐसी रहस्यमई जगह है जिसे जितना खोजा जाए उतनी ही हैरानी आपको समय-समय पर होती है | क्योंकि पृथ्वी पर कई ऐसी जगह हैं | जिनके पीछे की थ्योरी ढूंढने में साइंटिस्ट भी नाकामयाब रहे हैं | आज इस वीडियो में हम कुछ ऐसी ही जगहों को कवर करने वाले हैं | तो बने रहिए हमारे साथ इन जगहों के बारे में जानने के लिए |

The Ringing Rocks

Image result for the ringing rocks

पेंसिलवेनिया में मौजूद एक पहाड़ की ऊंची चोटी पर मौजूद बेहद रहस्यमय पत्रों का जमावड़ा लगा हुआ है | इन पत्थरो को देखकर लगता है कि यह पत्थर इस पहाड़ का हिस्सा नहीं है बल्कि इन्हें कहीं बाहर से लाया गया है | अब इतनी बड़ी संख्या में मौजूद इन पत्थरों को कौन उठाकर पहाड़ की चोटी पर रख कर गया होगा यह अपने आप में एक रहस्य है | लेकिन उससे भी बड़ी चौंकाने वाली बात यह है कि इन पत्थरों को पीटने के बाद इनसे अलग अलग तरह की संगीतमय आवाज निकलती है | आप कई सारे पत्थरो को एक साथ किसी हथौड़े से पीटकर बेहद शानदार संगीतमय धुन बजा सकते हैं | अंदाजा लगाया जाता है कि यहां पत्थर एक दूसरे के ऊपर एक खास तरीके से रखे गए हैं और दोनों के बीच मौजूद में खाली जगह मैं से यह आवाज निकलती है लेकिन पत्थरों को इस खास अंदाज में सजाया किसने होगा यह एक बहुत बड़ा रहस्य है |

The Petrifying Well

Image result for the petrifying well

इस कुएं में गिरने वाली कोई भी चीज पत्थर के बन जाती है चाहे फिर वह लड़की हो, कपडा हो या कुछ भी हो | स्थानीय लोग इस कुएं पर किसी देतेय का श्राप मानते हैं और इसके आसपास जाना कोई भी पसंद नहीं करता क्योंकि लोगों का ऐसा मानना था कि अगर वह खुद इस कुएं के पानी के संपर्क में आएंगे तो वह भी पत्थर के हो जाएंगे लेकिन पिछले कुछ सालों से यह कुआँ टूरिज्म प्लेस के रूप में डेवलप हो रहा है | यहां आने वाले लोग अपना सामान पानी के नीचे छोड़ कर चले जाते हैं और कुछ हफ्तों बाद जब यहां वापस आते हैं तो अपने सामान को पत्थर का पाते हैं | इस बारे में वैज्ञानिकों का मानना है कि इससे कुए के पानी में लोहे और जस्ते जैसे तत्व की अधिक मात्रा है | इसीलिए जब यह पानी किसी वस्तु पर गिरता है तो उस पर पत्थर की एक परत जम जाती है लेकिन वैज्ञानिक भी इसे पूरी तरह से नहीं समझ पाए हैं |

Beacon of Morcaibo

Image result for beacon of maracaibo

पश्चिमी वेनेजुएला के catatumbba नदी के ऊपर लगातार एक ऐसा तूफान आता रहता है जो कभी खत्म नहीं होता | यह तूफान हर रात करीब 7:00 बजे शुरू हो जाता है और सुबह 5:00 बजे तक यानी लगातार 10 घंटे तक बना रहता है | इस दौरान यहां के आसमान में हर समय बिजली चमकती रहती है इसीलिए इसे बिजली का तूफान भी कहा जाता है | इस बारे में पहले वैज्ञानिकों का Myth था कि यहां के पत्थरों में यूरेनियम बड़ी मात्रा में मौजूद है जो हर रात आने वाले तूफान की वजह बनते हैं | लेकिन अब एक नई थ्योरी के अनुसार यह तूफान वहां मौजूद पर्वतों की अजीब संरचना की वजह से आता है | पर्वत से निकलने वाली गर्म हवाएं समुन्दर से निकलने ठंडी हवाओं से टकराकर इस तूफ़ान को जनम देती हैं | लेकिन अचानक एक दिन यह तूफान थम गया था जिसके बाद लोगो ने सोचा कि अब इस तूफान का अंत हो गया है और यह फिर कभी नहीं आएगा लेकिन करीब डेढ़ महीने बाद ही यह अचानक फिर से शुरू हो गया और तब से लेकर आज तक यह कभी नहीं थमा है |

Blue Pond Of Hokkaido

Image result for blue pond of Hokkaido

जापान के hokkaido द्वीप पर एक झील है जिसे नीली झील का नाम दिया गया है | इस झील की खासियत है कि इसमें मौजूद पानी किसी गिरगिट की तरह अपना रंग बदलता रहता है | अगर एक किनारे पर खड़े होकर यह पानी आपको नीला दिखाई देगा तो दूसरे किनारे पर खड़े होने के बाद आप इसको हरा रंग का देख सकते हैं अजीब बात यह है कि बारिश के मौसम शुरू होने पर यह पानी जल्दी जल्दी अपना रंग बदलता है वैसे आपको बता दें कि यह एक मानव निर्मित झील है जिससे वहां मौजूद एक नदी पर बांध बनाकर बनाया गया था | वैज्ञानिकों का मानना है कि पानी में मौजूद अमोनियम हाइड्रोक्साइड की अधिक मात्रा के कारन ही यह पानी अपना रंग बदलता है लेकिन सबसे चौंकाने वाली बात यह हैं  की जिस नदी के पानी को इखट्टा करके इस नदी को बनाया गया हैं वो बिलकुल सामान्य हैं तो फिर आखिर इस झील में आने के बाद यह पानी नीला कैसे हो जाता है |  यह आज भी एक Conspiracy theory  है |

Shanay Timpshika River

Image result for Shanay Timpishka River

आमतौर पर नदियों को जीवन देने वाली माना जाता है लेकिन पेरु के जंगलों से गुजरने वाली इस नदी को मौत देने वाली नदी कहा जाता है क्योंकि इस नदी का पानी बेहद गर्म होता है जो किसी की भी जान ले सकता है | इस नदी के पानी का तापमान आमतौर पर 50 डिग्री सेल्सियस से लेकर 90 डिग्री सेल्सियस तक रहता है लेकिन कई जगहों पर इस पानी का टेंपरेचर 100 डिग्री सेल्सियस से भी ऊपर पहुंच जाता है जिसमें अगर कोई जीव गिर जाए तो उसका बच पाना नामुमकिन है | इस नदी के आसपास कुछ भी दिखाई नहीं पड़ता क्योंकि चारों तरफ इसके धुएं से कोहरे के बादल छा जाते हैं ऐसे में दिखाई ना देने के कारण कई जानवर इस नदी में गिर जाते हैं और खोलते पानी में गिरने के कारण कुछ ही सेकंड में झुलसकर मौत के हवाले हो जाते हैं आमतौर पर पूरी दुनिया में कई सारी नदियां मिल जाती है लेकिन किसी बहती नदी का इतना गर्म होना वैज्ञानिक की समझ से भी बाहर है  | इस नदी की खास बात यह हैं कि इस नदी के पास कोई सक्रिय ज्वालामुखी भी नहीं है इस बारे में वैज्ञानिकों का मानना है कि इस जगह कभी कोई तेज भूकंप आया होगा जिसकी वजह से नदी के नीचे कोई दरार बन गई होगी उसी के जरिए जमीन के अंदर बहने वाला लावा नदी के पानी के संपर्क में आता रहता है जिससे यह पानी उबलता हुआ नजर आता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here